दुनिया

लेन देन की दुनिया है
मुबारको का व्यापार है
रिश्तों को तोलते हैं
विश्वास का आभाव है
ईश्वर के तो न हो  पाये हम
बस तेरा और मेरा भगवान है
किराये की ज़मीन पर
जायज़ादे खड़ी करके
सोचते हैं खुदको
के मालिक मकान हैं

Advertisements

2 विचार “दुनिया&rdquo पर;

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s